नवाज शरीफ को 10 साल और बेटी मरियम को 7 साल की सजा का एलान

पाकिस्तान में 25 जुलाई को आम चुनाव होने हैं. पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बेटी लाहौर की सीट एनए 127 से मैदान में उतरी थीं लेकिन नवाज की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) ने उनकी जगह मलिक इरफान शफी खोखर को मौका दिया है. बात दरअसल ये है कि मरियम इस बार चुनाव नहीं लड़ पाएंगी क्योंकि उन्हें पाकिस्तान के भ्रष्टाचार निरोधी अदालत ने 7 साल की सजा का एलान किया है. साथ में उनके पिता नवाज शरीफ को भी 10 साल की सजा सुनाई गई है. मरियम शरीफ के पति सफदर को भी कोर्ट ने एक साल की सजा का एलान किया है.

किसे, किस गुनाह के लिए सजा मिली ?

नवाज शरीफ: नवाज शरीफ को आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने को दोषी करार देते हुए अदालत ने उन्हें 10 साल की सजा सुनाई. बता दें कि ये मामला लंदन में एवेनफील्ड अपार्टमेंट से जुड़ा है जहां नवाज शरीफ की संपत्ति का पता चला है.

मरियम शरीफ: मरियम पर लंदन में आलीशान संपत्ति खरीदने के लिए पिता को उकसाने का दोषी माना गया है. उन्हें 7 साल की सजा का एलान किया गया है.

कैप्टन सफदर: मरियम के पति कैप्टन सफदर को जांच में सहयोग ना करने के लिए एक साल की सजा सुनाई गई है.

नवाज शरीफ के परिवार की सजा के एलान के बाद इमरान खान की पार्टी तहरीक ए इंसाफ ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि ‘अदालत के फैसले से हम बहुत खुश हैं ये हमारी जीत है और सबसे ज्यादा जनता की जीत है.’  तहरीक ए इंसाफ की तरफ से कहा गया कि इसका श्रेय इमरान खान को जाता है जिनका मेन एजेंडा ही भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई है.

भ्रष्टाचार मामले में कोर्ट की ओर से दोषी ठहराए गए नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम शुक्रवार तक पाकिस्तान लौटेंगे. अभी दोनों लंदन में ही हैं. पाकिस्तान लौटने के बाद मरियम कोर्ट के फैसले के खिलाफ अपील दायर करेंगी.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *